Saltar al contenido

30 अप्रैल को बन रहा है ये शुभ संयोग, पैसों की तंगी से बचने …

30 अप्रैल को बन रहा है ये शुभ संयोग, पैसों की तंगी से बचने ...

हर माह आने वाली पूर्णिमा का बहुत महत्‍व है और इस माह जो पूर्णिमा आ रही है वो वैशाख पूर्णिमा है। इस पूर्णिमा तिथि पर व्रत करना बहुत शुभ माना जाता है। मान्‍यता है कि इस दिन व्रत करने से चंद्र देव प्रसन्‍न होते हैं और उनकी कृपा बनी रहती है।

वैशाख पूर्णिमा 2018 एवं वैशाख पूर्णिमा की तिथि

इस बार वैशाख पूर्णिमा 30 अप्रैल, 2018 को सोमवार के दिन मनाई जाएगी। इस बार की वैशाख पूर्णिमा बहुत खास होगी क्‍योंकि इस पूर्णिमा पर 3 साल के बाद सिद्धि योग जैसा संयोग बन रहा है। ये योग दान और खरीदारी दोनों के लिए ही बहुत शुभ माना जाता है। अगली बार ऐसा योग साल 2022 में बनेगा। इस बार पूर्णिमा पर बुद्ध जयंती का पर्व भी मनाया जाएगा।

Horóscopo 2019

वैशाख पूर्णिमा 2018 का शुभ योग

ज्‍योतिषशास्‍त्र के अनुसार इस दिन स्‍वाति नक्षत्र और तुला राशि का चंद्रमा संपन्‍नता और वैभव प्रदान करेगा। इसमें व्‍यापार में लाभ के योग भी बन रहे हैं। चूंकि ये पूर्णिमा सोमवार के दिन पड़ रही है इसलिए इसे सोमवती पूर्णिमा भी कहा जा सकता है। स्‍वाति नक्षत्र 27 नक्षत्रों में दान करना पुण्‍य प्रदान करेगा। इसके अधिपति वायु देव हैं और सिद्धि योग के अधिपति भगवान गणेश हैं जोकि हर तरह के कार्य में सिद्धि प्रदान करते हैं। तुला के चंद्रमा से वैभव में वृद्धि होगी।

वैशाख पूर्णिमा 2018 का महत्‍व

चैत्र पूर्णिमा के दिन पवित्र नदियों और सरोवरों में स्‍नान करने से सारे पाप धुल जाते हैं। इस दिन पवित्र नदियों में आरती का विशेष आयोजन भी किया जाता है। पौराणिक मान्‍यताओं के अनुसार चैत्र पूर्णिमा में तुलसी स्‍नान का भी रिवाज़ है और इस दिन स्‍नान के पानी में तुलसी का पत्ता डालकर स्‍नान करें। इस दिन अपनी सामर्थ्‍यानुसार दान करें।

Calculadora de Rudraksha gratis

स्‍नान के समय इस मंत्र का उच्‍चारण भी करें –

ऊं नमो नारायण

वैशाख पूर्णिमा पूजन विधि

वैशाख पूर्णिमा के दिन व्रत एवं भगवान श्री सत्‍यनारायण की पूजा की जाती है और इस दिन उनकी कथा सुनने एवं पढ़ने से भी लाभ मिलता है। वैशाख पूर्णिमा के दिन धूप, दीपक, अगरबत्ती आदि से भगवान विष्‍णु की उपासना करें और प्रसाद में चूरमे का भोग लगाएं।

Janm Kundali

कथा पढ़ने के पश्‍चात् प्रसाद का भोग लगाएं और वहां उपस्थित सभी लोगों में प्रसाद बांटें। इस दिन अपने सामर्थ्‍यानुसार दान भी करें। जो भी भक्‍त वैशाख पूर्णिमा के दिन व्रत एवं पूजन करता है उसके सारे दुख दूर हो जाते हैं।

वैशाख पूर्णिमा के उपाय

  • पूर्णिमा के दिन हनुमान जी को सिंदूर और चमेली के तेल से चोला अर्पित करें। इससे आपको हनुमान जी की कृपा प्राप्‍त होगी।
  • पूर्णिमा को शाम के समय पीपल के पेड़ के नीचे गाय के शुद्ध घी का दीपक जलाएं। इससे मां लक्ष्‍मी प्रसन्‍न होती हैं और उनके प्रसन्‍न होने पर आपको सुख और समृद्धि की प्राप्‍ति होती है।
  • शनि की ढैय्या या साढ़ेसाती चल रही है तो पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाएं। इससे आपके शनि से संबंधित सभी दोष दूर होंगें और आपको अपने प्रयासों में सफलता मिलेगी।

Comprar zafiro amarillo

  • पूर्णिमा के दिन छोटी कन्‍याओं को भोजन करवाएं और उन्‍हें कुछ उपहार में दें। इस उपाय भाग्‍य का साथ मिलने लगेगा।
  • पूर्णिमा की रात्रि को चंद्रमा को अर्घ्‍य दें और नीचे बताए गए मंत्र का जाप करें। पैसों की तंगी या आर्थिक समस्‍या से बचने के लिए आप ये उपाय कर सकते हैं।

ऊं ऐं क्‍लीं सोमाय नम: ।।

अगर आपकी जन्‍मकुंडली में चंद्रमा बहुत कमज़ोर है और इस वजह से आप हमेशा तनाव में रहते हैं तो आपको वैशाख पूर्णिमा पर व्रत एवं पूजन अवश्‍य करना चाहिए। इससे आपका मन शांत रहेगा। पूर्णिमा के दिन चंद्रमा से संबंधित सफेद रंग की वस्‍तुओं का दान करने से भी लाभ होगा।

किसी भी जानकारी के लिए Llamada करें: 8882540540

ज्‍योतिष से संबधित अधिक जानकारी और दैनिक राशिफल पढने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को Me gusta और Seguir करें: Astrólogo en línea