Saltar al contenido

सोयी किस्मत को जगाने का काम करता है पन्ना रत्न, जाने इसके इस्तेमाल करने …

Panna Stone Beneifts

पन्ना बुध ग्रह का बहुत ही प्रभावशाली रत्न है। बुध ग्रह वाणी, व्यापार, कंप्यूटर, गणित, अध्ययन, वकालत आदि का कारक होता है। पन्ना रत्न को कई नामों से लोग जानते है। संस्कृत में इसे मरकत मणि, फ़ारसी में जरमन और अंग्रेजी में एमराल्ड कहते है। पन्ना हल्के रंग से गहरे हरे रंग का होता है। बुध ग्रह का यह चमकदार रत्न आपको हर मुश्किल से बचने की शक्ति रखता है। इसको पहनने क बाद सोया भाग्य जागृत होता है।

पन्ना पहनने से जीवन में खुशहाली आती है और जीवन में कभी भी धन-धान्य की कमी नहीं होती। अक्सर देखा गया है की बड़े-बड़े व्यापारी, कलाकार, फ़िल्मी जगत के लोग, राजनीति से जुड़े लोग पन्ना धारण करते है। इस रत्न के प्रभाव के कारण ही इन लोगों को प्रसिद्धि और धन एकसाथ मिलता है और समाज में मान सम्मान भी मिलता है।

Beneifts de Panna Stone

पन्ना रत्न और बुध ग्रह

अगर कुंडली में बुध की महादशा या अन्तर्दशा चल रही हो तो पन्ना अवश्य पहनना चाहिए। बुध की पीड़ा को शांत करने के लिए भी इसको पहनने की सलाह कई ज्योतिषाचार्यों द्वारा दी जाती है। कुंडली में अगर शनि, राहू, केतु या मंगल के साथ बुध हो या फिर बुध पर शत्रु ग्रहों की दृष्टि हो तो पन्ना जरुर धारण करना चाहिए।

पन्ना रत्न का मिथुन तथा कन्या राशि से सम्बन्ध

मिथुन तथा कन्या राशि का स्वामी बुध होता है, पन्ना बुध ग्रह का बहुत ही प्रभावशाली रत्न है इसलिए मिथुन तथा कन्या राशि के लोगों के लिए पन्ना रत्न पहनना सबसे लाभदायक होता है। इन लोगों के जीवन में आ रहे कष्टों को पन्ना रत्न दूर कर सकता है। यह रत्न वाद-विवाद करने की क्षमता देता है, पारिवारिक कलह को भी सामाप्त कर देता है, इस रत्न के प्रभाव से वाणी का प्रभाव अच्छा बना रहता है। यह रत्न नौकरी, सरकारी कार्यों में लाभ कराता है तथा रोजगार के अवसर प्रदान कराता है। अगर कुंडली में बुध ग्रह की स्थिति कमजोर है तो पन्ना उसे बल प्रदान करने का काम करता है।

अभिमंत्रित पन्ना रत्न अंगूठी प्राप्त करें

पन्ना रत्न इस्तेमाल करने का तरीका

पन्ना रत्न का सम्बन्ध बुध ग्रह से होने के कारण छात्रों के लिए, बड़े-बड़े व्यापारी, कलाकार, फ़िल्मी जगत के लोग तथा राजनीति से जुड़े लोगों के लिए अति उत्तम माना गया है। यह रत्न एकाग्रता और स्मरण शक्ति को तीव्र बनाता है। बुधवार के दिन पन्ना रत्न धारण करना सबसे शुभ माना गया है। अगर बुधवार को अश्लेषा, रेवती, पुष्य अथवा पूर्वाफाल्गुनी हो तो अति उत्तम रहता है।

कुंडली में बुध की स्थिति क्या है, इस बात का ध्यान अवश्य रखे उसके बाद ही पन्ना रत्न धारण करना लाभदायक होता है। पन्ना रत्न बुधवार के अलावा बुध की होरा में दाहिने हाथ की कनिष्ठा अर्थात सबसे छोटी अंगूली में धारण करना सबसे उत्तम माना गया है। पन्ना रत्न अपने वजन के हिसाब से धारण करना चाहिए, सव्वा पांच रत्ति से कम पन्ना नहीं पहनना चाहिए।

पन्ना रत्न के अद्भुत लाभ

  • पन्ना रत्न बुध ग्रह से सम्बंधित है और बुध का स्मरण शक्ति पर सबसे अधिक प्रभाव रहता है, इसलिए जिन लोगों की स्मरण शक्ति कमजोर होती है, उन्हें पन्ना धारण करने से लाभ होता है।
  • व्यापारियों के लिए पन्ना धारण करना लाभकारी होता है, इसके प्रभाव से व्यापार में वृद्धि होती है।
  • गणित, कॉमर्स तथा कंप्यूटर से सम्बंधित शिक्षा प्रदान करनेवाले अध्यापकों के लिए यह रत्न लाभ पहुँचाने वाला होता है।
  • पन्ना धारण करने से भाग्य वृद्धि होती है तथा धन का आगमन होता है, घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है।
  • पढ़ाई में कमज़ोर बच्‍चों और छात्रों को पन्‍ना रत्‍न धारण करने से लाभ होता है, इससे उनकी एकाग्रता बढ़ती है।
  • पन्ना रत्न के प्रभाव से मन शांत रहता है।
  • अगर कुंडली में बुध ग्रह की स्थिति कमजोर है, तो पन्ना उसे बल प्रदान करने का काम करता है।
  • पन्ना छात्रों के लिए, बड़े-बड़े व्यापारी, कलाकार, फ़िल्मी जगत के लोग तथा राजनीति से जुड़े लोगों के लिए अति उत्तम माना गया है।

किसी भी जानकारी के लिए Llame al करें: 8882540540

ज्‍योतिष से संबधित अधिक जानकारी और दैनिक राशिफल पढने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को Me gusta और Seguir करें: Astrólogo en Facebook

अभिमंत्रित पन्ना रत्न अंगूठी प्राप्त करें