Saltar al contenido

सावन के महीने में इस तरह करें शिव की पूजा, जल्‍द मिलेगा फल

सावन के महीने में इस तरह करें शिव की पूजा, जल्‍द मिलेगा फल

शुक्‍ल पक्ष की प्रथम तिथि से सावन का पवित्र महीना शुरु होता है। सावन माह में भगवान शिव की कृपा अपने भक्‍तों पर बरसती है एवं यह माह भगवान शिव को प्रसन्‍न करने के लिए सबसे उत्‍तम माना जाता है।

इस बार सावन माह की शुरुआत 10 जुलाई से हो रही है और यह 7 अगस्‍त को रक्षाबंधन पर समाप्‍त होगा।

मान्‍यता है कि इस महीने में जो भी अविवाहित कन्‍या भगवान शिव के सोमवार के व्रत रखती है उसे मनचाहे वर की प्राप्‍ति होती है। मां पार्वती ने भी भगवान शिव को प्रसन्‍न करने के लिए सावन के महीने में ही कठोर तपस्‍या की थी।

कांवडियों का रहस्‍य

कांवडियों की परंपरा महादेव के सबसे बड़े भक्‍त रावण की शुरू की गई है। त्रेता युग में रावण ने गंगा नदी से पवित्र जल लेकर कांवड में पुरमहादेव मंदिर में भगवान शिव का अभिषेक किया था। तभी से कांवडियों की इस परंपरा की शुरुआत हुई।

Rashifal 2019

शिव ने किया विषपान

किवदंती है कि सावन के पवित्र महीने में ही देवताओं और राक्षसों के बीच सुमद्र मंथन हुआ था। इस मंथन में समुद्र से हलाहल नामक ज़हरीला विष निकला था जिससे पूर संसार में हाहाकार मच गया था। तब सृष्टि की रक्षा हेतु भगवान शंकर ने इस हलाहल विष का पान किया था। तभी से मनुष्‍य जाति भगवान शिव को कृतज्ञता प्रकट करने के लिए सावन के महीने में भगवान शिव की विशेष आराधना करती है।

पूजन सामग्री

महादेव को बेल, भांग, धतूरा और श्रीफल सबसे प्रिय है। इसके अलावा भगवान शंकर का जल, दूध, दही, घी, शक्कर, शहद, गंगाजल, गन्ना रस आदि से अभिषेक किया जाता है। इसके बाद बेलपत्र, समीपत्र, दूब, कुशा, कमल, नीलकमल, आक मदार, जंवाफूल कनेर, राई फूल अर्पित कर उन्‍हें प्रसन्न करते हैं और भोग के रूप में धतूरा, भांग और श्रीफल चढ़ाया जाता है।

सावन के चमत्‍कारिक उपाय

– यदि पति-पत्‍नी के बीच में विवाद हो तो मिश्री का मिश्रण अथवा विवाह में देरी आ रही हो तो मक्‍खन का मिश्रण 108 बेलपत्रों के साथ चढ़ाएं।

– जो लोग धन की इच्छा रखते हैं वे खीर से भगवान शिव का अभिषेक करें।

Libre Janm Kundli

– यदि घर में सुख-समृद्धि चाहते हैं तो भांग को घोटकर शिवलिंग का अभिषेक करें।

– आर्थिक लाभ पाने के लिए शहद से शिव का अभिषेक करें। अगर आप कर्ज से छुटकारा पाना चाहते हैं तो भी सावन के महीने में शहद से शिवलिंग का अभिषे करें।

– शत्रु को परास्‍त करना चाहते हैं या कोई आपको परेशान कर रहा है तो उससे छुटकारा पाने के लिए सरसों के तेल से शिव का अभिषेक करें।

– अगर परिवार में अशांति और क्‍लेश का माहौल रहता है तो तीर्थ जल से शिव का अभिषेक करने से आपको लाभ होगा।

– पूर्ण लाभ के लिए सावन के पूरे महीने शिव का पूजन करें और यथाशक्‍ति जाप करें। अनुष्‍ठान के नियमों का पालन करें। अगर संभव हो तो ब्राह्मण से पूजन करवाएं और उन्‍हें अपनी सामर्थ्‍यानुसार दक्षिणा भी दें।

Piedra de nacimiento

किसी भी जानकारी के लिए Llamada करें: 8882540540

ज्‍योतिष से संबधित अधिक जानकारी और दैनिक राशिफल पढने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को Me gusta और Seguir करें: Astrólogo en Facebook