Saltar al contenido

सभी प्रकार की आपदाओं से चाहते है मुक्ति, तो शीघ्र ही धारण करें, अग्नि …

benefits of 3 mukhi rudraksha

तीन मुखी रुद्राक्ष, नाम से ही प्रतीत होता है कि इसमें तीन देवताओं का वास है, ब्रह्मा, विष्णु और महेश को त्रिशक्ति के रूप में पूजा जाता है, तीन मुखी रुद्राक्ष इन्हीं त्रिशक्तियों का प्रतिनिधित्व करता है। तीन मुखी रुद्राक्ष को अग्‍नि देव का स्‍वरूप कहा गया है। जिस प्रकार अग्‍नि के संपर्क में आने से स्‍वर्ण भी शुद्ध हो जाता है ठीक उसी प्रकार तीन मुखी रुद्राक्ष भी धारणकर्ता के शरीर को शुद्ध करता है। तीन मुखी रुद्राक्ष धारणकर्ता को सभी सुख-सुविधाओं से अवगत कराता है।

beneficios de 3 mukhi rudraksha

तीन मुखी रुद्राक्ष का धार्मिक महत्व

रुद्राक्षों में तीन मुखी रुद्राक्ष का बहुत महत्व है। धर्म-शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है की तीन मुखी रुद्राक्ष साक्षात अग्नि स्वरुप है। इसमें ब्रह्मा, विष्णु और महेश वास करते है। इसे धारण करने से व्यक्ति के जीवन के सभी कष्ट व संकट दूर हो जाते हैं। इसके साथ ही तीन मुखी रुद्राक्ष व्यक्ति के जीवन के अन्धकार को दूर कर उसमे प्रकाश को भरता है। यह अचूक धन प्राप्ति के लिए भी उत्तम माना गया है। इसके धारण करने से जातक चिंतामुक्त और साहसी, निडर हो जाता है। शत्रु भय से मुक्त हो जाता है। यह रुद्राक्ष मनोबल को बढाता है तथा एकाग्रता में वृद्धि कराता है।

तीन मुखी रुद्राक्ष और ज्योतिष

यदि कुंडली में मंगल कमजोर हो अथवा अस्त हो तो तीन मुखी रुद्राक्ष को धारण करना लाभदायक होता है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार तीन मुखी रुद्राक्ष का स्वामी मंगल है। इसी कारण तीन मुखी रुद्राक्ष को धारण करनेवाले व्यक्ति के अंदर साहस, शक्ति और नेतृत्व क्षमता का निर्माण होता है। इसे धारण करने के बाद व्यक्ति का भाग्योदय होता है। समाज में प्रसिद्धि मिलती है। नौकरी में प्रगति होती है अगर किसी जातक की कुंडली में किसी क्रूर ग्रह की दशा या अन्तर्दशा चल रही है तो भी तीन मुखी रुद्राक्ष को पहनना उचित होता है। इसके धारण करने से जातक चिंतामुक्त और साहसी, निडर हो जाता है। शत्रु भय से मुक्त हो जाता है। मंगल का तेज उसको हर कार्य में सफल बनाने में मदद करता है। मेष और वृश्चिक राशि के जातकों के लिए यह रुद्राक्ष बहुत ही लाभकारी होता है।

तीन मुखी रुद्राक्ष धारण करने के नियम तथा विधि

  • तीन मुखी रुद्राक्ष धारण करनेवाला व्यक्ति सदाचार का पालन करनेवाला होना चाहिए।
  • तीन मुखी रुद्राक्ष धारण करने वाले व्यक्ति की भगवान शिव के प्रति गहरी आस्था होनी चाहिए।
  • मांस-मदीरा या अन्य नशे की वस्तुओं से दूर रहना चाहिए।
  • सोमवार अथवा शिवरात्रि के दिन रुद्राक्ष को धारण करना शुभ होता है।
  • रुद्राक्ष धारण करने से पूर्व गंगाजल या कच्चे दूध से रुद्राक्ष को शुद्ध करें।

रुद्राक्ष को जागृत करने के लिए «ॐ क्लीम नमः« मंत्र का उच्‍चारण 108 बार करें।

तीन मुखी रुद्राक्ष के अद्भुत लाभ

एकाग्रता में वृद्धि

दरअसल तीन मुखी रुद्राक्ष को अत्यंत शुभ माना गया है। यह व्यक्ति के जीवन के कई दोषों को शांत करने का काम करता है। लेकिन यदि सबसे अधिक यह किसी बात में सहायक होता है, तो वो है एकाग्रता में वृद्धि के लिए, जो जातक किसी काम में फोकस करने में असमर्थ होते है उनके लिए तीन मुखी रुद्राक्ष धारण करना लाभदायक होता है इसके प्रभाव से एकाग्रता है वृद्धि होती , छात्रों के लिए यह रुद्राक्ष बहुत ही लाभकारी होता है।

आर्थिक स्थिति में सुधार

जो जातक धन की कमी का सामना कर रहे है, उनके लिए यह रुद्राक्ष किसी वरदान से कम नहीं है, इस रुद्राक्ष के प्रभाव से धन का आगमन होता है, मान सम्मान के साथ आर्थिक स्थिति में भी सुधार होता है। तीन मुखी रुद्राक्ष अग्नि स्वरुप माना गया है इसमें में त्रिशक्तियाँ समाहित होती है, जिनका लाभ मनुष्य को मिलता है। इसलिए बिना संकोच इस रुद्राक्ष को अवश्य धारण करना चाहिए। तीन मुखी रुद्राक्ष को धारण करने के बाद आय के नवीन स्रोत उपलब्ध होते है तथा ब्रह्मा, विष्णु और महेश का आशीर्वाद मिलता है।

अभी अभिमंत्रित 3 मुखी रुद्राक्ष प्राप्त करें

पाचन तंत्र को दुरुस्त रखता है

तीन मुखी रुद्राक्ष में पाचन तंत्र को मजबूत रखने की अद्भुत शक्ति होती है। यदि आपको भूख न लगती हो या आपका पाचन तंत्र ठीक नहीं है तो आपको बिना सोचे तीन मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए यह आपके लिए वरदान स्‍वरूप है। इस रुद्राक्ष के प्रभाव से चेहरे पर तेज और चमक आती है, आलस्य दूर कर जातक जोश से अपने कार्य को करने में कामयाब होता है।

नौकरीपेशा लोगों के लिए लाभकारी

यदि नौकरी करियर में किसी प्रकार की बाधा आ रही हो या नौकरी में मनवांछित सफलता नहीं मिल रही है तो तीन मुखी रुद्राक्ष आपके लिए ही है। कई बार अशुभ या निर्बल ग्रहों की दृष्टि पड़ने के कारण करियर या नौकरी में समस्या आती है, इन समस्याओं के निवारण के लिए तीन मुखी रुद्राक्ष अवश्य धारण करना चाहिए, साक्षात अग्नि स्वरुप यह रुद्राक्ष नौकरीपेशा लोगों के लिए अत्यंत लाभकारी होता है।

अभी अभिमंत्रित 3 मुखी रुद्राक्ष प्राप्त करें

किसी भी जानकारी के लिए Llamada करें: 8882540540

ज्‍योतिष से संबधित अधिक जानकारी और दैनिक राशिफल पढने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को Me gusta और Seguir करें: Página de Facebook de AstroVidhi