Saltar al contenido

शनि देव के प्रकोप से बचने के लिए घर में लगाएं ये पौधा, कभी …

शनि देव के प्रकोप से बचने के लिए घर में लगाएं ये पौधा, कभी ...

शनि देव को न्‍याय के देवता की उपाधि दी गई है। कहा जाता है कि शनि देव मनुष्‍य को उसके कर्म के अनुसार ही फल देते हैं और इस दौरान वो किसी भी तरह की नरमी नहीं रखते हैं। शनि देव को अच्‍छे-बुरे कर्मों का फल देने के लिए भी जाना जाता है।

ज्‍योतिषशास्‍त्र में कुंडली में बन रहे कई दोषों को दूर करने में पौधे भी अहम भूमिका निभाते हैं। वैसे तो शनि देव को प्रसन्‍न करने और उनके प्रकोप से बचने के लिए कई उपाय हैं लेकिन इस काम के लिए आप शमी के पौधे का प्रयोग भी कर सकते हैं।

कोई भी पहन सकता है शनि देव का ये रत्‍न

शमी के पौधे पर शनि देव का प्रभाव

अगर आप शनि की साढ़ेसाती या ढैय्या से गुज़र रहे हैं तो आपके जीवन में शनि के प्रकोप को शमी के पौधे से कम किया जा सकता है। इस बार 17 मार्च को शनिश्‍चरी अमावस्‍या पड़ रही है और अगर आप इस अवसर पर घर में शमी का पौधा लगाएं तो ना केवल आपको शनि देव की कृपा प्राप्‍त होगी बल्कि सभी देवी-देवता प्रसन्‍न होंगें। इससे मां लक्ष्‍मी की कृपा भी घर-परिवार पर बनी रहती है।

Janm Kundali

अब जानते हैं कि घर में किस तरह और किस जगह शमी का पौधा लगाने से शनि देव की कृपा प्राप्‍त होती है।

कहां लगाएं शमी का पौधा

घर के मुख्‍य द्वार के ओर दोनों ओर शमी का पौधा लगाने से आपके घर में नकारात्‍मक ऊर्जा प्रवेश नहीं कर पाएगी। इससे घर में धन-धान्‍य और समृद्धि भी बढ़ेगी।

शनि देव को कैसे करें प्रसन्‍न

    • अगर दुर्भाग्‍य आपका साथ नहीं छोड़ रहा है तो रोज़ शमी के पौधे के आगे सरसों के तेल का दीपक जलाएं। इसमें आप मिट्टी के दीपक का प्रयोग भी कर सकते हैं, ये शुभ माना जाता है।
    • रोज़ सूर्य की ओर मुख करके शमी के पौधे में जल चढ़ाएं। इससे शनि देव का प्रकोप कम होता है और शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या का प्रभाव भी कम होने लगता है। बुरा समय दूर कर सभी प्रकार की बाधाओं को ये उपाय दूर करता है।

Horóscopo 2019

  • शमी के पौधे से आप शनि देव के साथ-साथ भगवान गणेश को भी प्रसन्‍न कर सकते हैं। गणेश जी के पूजन में दूर्वा के साथ शमी की पत्तियां चढ़ाएं।
  • किसी जरूरी काम के लिए जा रहे हैं तो शमी के पौधे के आगे प्रणाम करके निकलें। इससे आपको अपने कार्य में सफलता मिलेगी और सारी बाधाएं भी दूर होंगीं।

शमी की पवित्र लकड़ी

शमी के पेड़ की लकड़ी को यज्ञ की वेदी के लिए पवित्र माना जाता है। शनिवार को करने वाले यज्ञ में शमी की लकड़ी से बनी वेदी का प्रयोग करने का विशेष महत्‍व है। शमी के वृक्ष और पौधे में कई देवताओं का वास होता है और इसलिए सभी यज्ञों में शमी के पेड़ की लकडियों का प्रयोग करना शुभ माना जाता है।

शमी के कांटों का प्रयोग तंत्र-मंत्र बाधा और बुरी शक्‍तियों के नाश एवं मुक्‍ति पाने के लिए होता है। शमी के फूलों, पत्तियों, जड़ और टहनियों एवं रस का प्रयोग शनि देव संबंधित दोष दूर करने के लिए होता है।

किसी भी जानकारी के लिए Llamada करें: 8882540540

ज्‍योतिष से संबधित अधिक जानकारी और दैनिक राशिफल पढने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को Me gusta और Seguir करें: Astrólogo en línea