Saltar al contenido

बुध के कमज़ोर होने पर बरसने लगती हैं ऐसी मुसीबतें, जानिए रा‍शि अनुसार बुध …

बुध के कमज़ोर होने पर बरसने लगती हैं ऐसी मुसीबतें, जानिए रा‍शि अनुसार बुध ...

ज्‍योतिषशास्‍त्र के अनुसार ग्रहों में बुध का बहुत महत्‍व होता है। अगर कुंडली में बुध ग्रह कमज़ोर हो तो उस व्‍यक्‍ति के जीवन में बहुत सारी कठिनाईयां आती हैं लेकिन अगर कुंडली में बुध मजबूत स्थिति में बैठा हो तो जीवन में ये खुशियों का कारक बन जाता है।

बुध ग्रह को देवताओं का राजकुमार भी कहा जाता है। अगर बुध सही है तो जीवन में सब कुछ ठीक रहता है लेकिन अगर कुंडली में बुध खराब है या नीच स्‍थान में बैठा है तो खुशियों की जगह ये दुख का कारण बन जाता है।

बुध के अशुभ प्रभाव

  • बुध के अशुभ प्रभाव देने पर मुसीबतों का पहाड़ टूट जाता है।
  • ऐसे में कई बीमारियां होने का खतरा रहता है और शरीर का आकर्षण खत्‍म हो जाता है।
  • कमज़ोर बुध कर्ज की स्थिति भी उत्‍पन्‍न करता है। इसका सीधा असर व्‍यक्‍ति की आर्थिक स्थिति पर पड़ता है।
  • बुध के नीच होने के कारण पद, प्रतिष्‍ठा और मान-सम्‍मान को हानि पहुंचती है।
  • ऐसे में इंसान की सूंघने की शक्‍ति कम हो जाती है और वो शिक्षा के क्षेत्र में भी बेहतर प्रदर्शन नहीं कर पाता है। बुध के कमज़ोर होने पर बुद्धि भ्रष्‍ट हो जाती है और वाणी में कटुता आ जाती है।

Generar Janam Kundali gratis

बुध के शुभ प्रभाव

अगर कुंडली में बुध शुभ स्‍थान में बैठा है तो जातक के व्‍यक्‍तित्‍व में आकर्षण बढ़ जाता है। उसकी वाणी में मधुरता आती है और लोग उसकी बातों को ध्‍यान से सुनने लगते हैं। बुध की स्थिति ही तय करती है कि इंसान कैसा बोलता है और कैसा व्‍यवहार करता है या फिर उसकी बुद्धि और व्‍यक्‍तित्‍व कैसा होता है।

बुध बलवान हो तो ऐसे में जातक को अपने व्‍यापार में खूब सफलता मिलती है। शेयर मार्केट में उसे खास फायदा होता है। बुध के शुभ प्रभाव में इंसान यश और कीर्ति की ऊंचाईयों तक पहुंचा देता है लेकिन अगर इसने आपसे नज़र फेर ली तो ये आपको पाई-पाई के लिए मोहताज कर देता है।

चलिए राशि अनुसार जानते हैं कि कमज़ोर बुध का किस पर क्‍या प्रभाव पड़ता है -:

मेष: इनके करियर में ढ़ेर सारी समस्‍याओं का पहाड़ खड़ा हो जाता है। कर्ज और बीमारियां परेशान करने लगती हैं।

वृषभ: बुध के शुभ प्रभाव के बिना आपके जीवन से खुशियां चली जाती हैं।

मिथुन: इन्‍हें जीवन में बहुत संघर्ष करना पड़ता है और नौकरी पर भी परेशानियां मंडराने लगती हैं।

कर्क: आपकी सेहत पर बुरा असर पड़ता है। यात्रा में नुकसान होता है। चरित्र पर इसका बुरा असर पड़ता है और मान-सम्‍मान में भी कमी आती है।

Use Rudraksha Energizada para vivir saludable y rico

सिंह: कमज़ोर बुध आर्थिक कष्‍ट देता है। एक-एक पैसे के लिए मोहताज बना देता है।

कन्‍या: बुध के नीच होने के कारण सेहत खराब रहती है और धन घटने लगता है। सौंदर्य में कमी आती है और करियर में गिरने लगता है।

तुला: इन्‍हें अपने भाग्‍य का साथ नहीं मिलता है। इना चरित्र कमज़ोर पड़ जाता है।

वृश्चिक: योग्‍य होने के बाद भी इन्‍हें सफलता पाने के अवसर नहीं मिल पाते हैं। इनकी त्‍वचा या वाणी में विकार आ सकता है।

धनु: शादी में रुकावट आती है और वैवाहिक जीवन में भी समस्‍याएं उत्‍पन्‍न होती हैं।

मकर: कर्ज में डूब जाता है और नौकरी में भी तरक्‍की नहीं मिलती है। भाग्‍य का साथ नहीं मिल पाता है।

कुंभ: बुद्धि में कमी आती है। संतान की ओर से समस्‍याएं उत्‍पन्‍न होती हैं।

मीन: बुध के नीच होने के कारण इन्‍हें अपने जीवन में कोई सुख नहीं मिल पाता है। वैवाहिक जीवन में परेशानियां आती हैं और संपत्ति का नुकसान होता है।