Saltar al contenido

इस नवरात्र इस शुभ मुहूर्त में करें पूजा, पैसा-घर सब मिलेगा

इस नवरात्र इस शुभ मुहूर्त में करें पूजा, पैसा-घर सब मिलेगा

हिंदू धर्म में मां दुर्गा को समर्पित नवरात्र का बहुत महत्‍व है। साल में चार बार चैत्र, आषाढ़, आश्‍विन और माघ में नवरात्र का पर्व आता है लेकिन इसमें से दो चैत्र और आश्विन मास के शुक्‍ल पक्ष की प्रतिपदा से नवमी तक पड़ने वाले नवरात्र ज्‍यादा लोकप्रिय होते हैं। बाकी के दो गुप्‍त नवरात्र होते हैं।

बसंत ऋतु में होने के कारण चैत्र नवरात्र को वासंती नवरात्र भी कहा जाता है। नवरात्र के नौ दिनों में मां दुर्गा की विशेश पूजा की जाती है। नवरात्र के दिनों में मां के अलग-अलग रूपों की पूजा होती है।

नवरात्र में मां के नौ रूपों की पूजा

नवरात्र के नौ दिनों में मां शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघंटा, स्‍कंदमाता, कात्‍यायनी, कालरात्रि, महागौरी और सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है। नवरात्र के प्रथम दिन घटस्‍थापना की जाती है। इसके पश्‍चात् नौ दिनों तक लगातार मां की पूजा होती है और भक्‍त उपवास रखते हैं।

कब शुरु हैं नवरात्र

इस बार चैत्र नवरात्र 18 मार्च यानि रविवार के दिन से शुरु होकर 26 मार्च सोमवार तक हैं। इन नौ दिनों पर उपरोक्‍त बताए गए मां के नवरूपों की पूजा होगी।

नवरात्र की पूजन सामग्री

गंगाजल, नारियल, लाल चुनरी, मोली, रोली, अशोक के पत्ते रखें। इसके अलावा पूजन में हर चीज़ लाल रंग की ही रखें। पूजन में दूर्वा, प्रसाद, फल, तुलसी, फल, मेवे, बेलपत्र, लौंग, इत्र, सुपारी, इलायची, कपूर, कपड़े, मिठाई, चावल, धूप-दीप और देशी घी रखें।

नवरात्र की पूजन विधि

प्रथम नवरात्र को स्‍नान आदि के पश्‍चात् घर और मंदिर को साफ करें और गंगाजल छिड़कें। अब आटे और रोली से देवी मां की मूर्ति की स्‍थापना के लिए छोटा-सा आसन एवं स्‍थान बनाएं।

Janm Kundli

नवरात्र पूजन के शुभ मुहूर्त

घट स्‍थापना मुहूर्त: 06.31 से 07.46 तक

  • अवधि: 1 घंटा 15 मिनट
  • घटस्‍थापना मुहूर्त की शुरुआत प्रतिपदा तिथि से होगी।
  • प्रतिपदा तिथि की शुरुआत: 17 मार्च, 2018 को 18.41 से
  • प्रतिपदा तिथि का समापन: 18 मार्च, 2018 को 18.31 तक

नवरात्र में मां दुर्गा को प्रसन्‍न करने के लिए करें इस यंत्र की पूजा

नवरात्र में करें ये काम

  • नवरात्र में दुर्गा सप्‍तशती का पाठ जरूर करें।
  • पूजन के आखिर में क्षमा प्रार्थना जरूर करनी चाहिए।
  • पूजन करते समय ध्‍यान भी करें, इससे आपको विशेष फल की प्राप्‍ति होगी।
  • ‘ऊं ह्रीं क्‍लीं चामुण्‍डायै विच्‍चै नम:’ मंत्र का 108 बार जाप करें।
  • किसी भी प्रकार की बाधा के निवारण के लिए सर्वमुक्‍ति बाधा मंत्र का जाप करें -: ‘ऊं ह्रीं दुम दुर्गाय नम:‘।

Horóscopo 2019

नवरात्र के उपाय

  • मां दुर्गा के मंदिर में अखरोट का भोग लगाने से अपार यश और कीर्ति की प्राप्‍ति होती है। जो लोग अपने जीवन में सफलता पाना चाहते हैं वे नवरात्र के दौरान मां दुर्गा के मंदिर में अखरोट का प्रसाद चढ़ाएं।
  • मां दुर्गा को लौंग का जोड़ा और पान चढ़ाने से मान-सम्‍मान में वृद्धि होती है। ये उपाय समाज में आपको यश और ऐश्‍वर्य की प्राप्‍ति होती है।
  • मनोकामना की पूर्ति के लिए माता के मंदिर में अनार का भोग लगाना भी शुभ रहता है। यदि कोई स्‍त्री अपने पति की लंबी आयु की कामना रखती है तो उसे मां दुर्गा के मंदिर में माता रानी को नवरात्र में नथनी भेंट करनी चाहिए। ऐसा करने से सौभाग्‍य में वृद्धि होती है।

किसी भी जानकारी के लिए Llamada करें: 8882540540

ज्‍योतिष से संबधित अधिक जानकारी और दैनिक राशिफल पढने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को Me gusta और Seguir करें: Mejor astrólogo en Delhi